आ रही हैं माँ 25 मार्च 2020 को – ऐसे करें माँ की पूजा

हर साल की तरह 2020 में भी माँ आ रही हैं और ढेर सारी खुशियां भी ला रही हैं, 25 मार्च को माँ का आगमन होगा और 02 अप्रैल को रामनवमी के दिन पारण होने के साथ ये पर्व समाप्त होगा। माँ का ये आगमन भारतवासियों और संपूर्ण जगत के कल्याण के लिए है और इसीलिए ये ज़रूरी है की हम माँ से पुरे भारतवर्ष और विश्व की शांति के लिए प्रार्थना करें ताकि सबके जीवन में सुख शांति और उजाला ho.

हम सभी जानते हैं की 9 दिन माँ के विभिन्न रूपों की पूजा होती है। देखते हैं किस दिन कौन से स्वरुप की करें पूजा।

25 मार्च : ये नवरात्री का पहला दिन है और इस दिन माता शैलपुत्री की पूजा होती है।

26 मार्च : नवरात्री के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा करने का विधान है।

27 मार्च : नवरात्री के तीसरे दिन माँ चंद्रघंटा की पूजा होती है।

28 मार्च : नवरात्री के चौथे दिन माँ कुष्मांडा की पूजा की जाती है।

29 मार्च : आज नवरात्री के पांचवे दिन स्कंदमाता की पूजा अर्चना की जाती है। \

30 मार्च : नवरात्री के छठे दिन माँ कात्यायनी की पूजा होती है।

31 मार्च : नवरात्री के सातवें दिन माँ कालरात्रि की पूजा होती है माँ का ये रूप देखने में भले ही भयानक हो पर ये बहुत ही दयालु और कृपा प्रदान करने वाली hain.

01 अप्रैल : नवरात्री के आठवें दिन माँ महागौरी की पूजा होती है जो माँ का अत्यंत ही सुन्दर और दिव्य स्वरुप है।

02 अप्रैल : नवरात्री के नवें दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा होती hai

इस बार की नवरात्री में कई शुभ संयोग बन रहे हैं इसलिए माँ के भक्तों को माँ की पूजा आराधना पूरी श्रद्धा से करनी चाहिए।

विशेष : कृपया ध्यान दें देश भर में फैल रहे कोरोना को देखते हुए सरकारी आदेशों का पालन अवश्य करें और व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग प्रदान करें। ध्यान रहे माँ को प्रसन्न करने के लिए मन का पवित्र होने ज़रूरी है, अगर आप काम वस्तुओं में भी पूजन करें तो भी माँ का पूरा आशीर्वाद आपको मिलेगा इसलिए बेवजह की भीड़भाड़ से बचें और आंतरिक पूजा पर विशेष ध्यान dein.

इसी प्रकार के अन्य जानकारियों के लिए हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब करना ना भूलें। हम आप तक धार्मिक जानकारियां और लेख पहुंचाते रहेंगे, इस वेबसाइट से जुड़ने और आपका प्यार देने के लिए आपका बहुत बहुत dhanyawad.

Leave a Comment